बाल्यावस्था (Childhood) : One Liner Questions

बाल्यावस्था में शारीरिक, मानसिक, सामाजिक और संवेगात्मक विकास से संबंधित अत्ति महत्वपूर्ण प्रश्र उत्तर (one liner most Important questions in hindi)


बाल्यावस्था की उम्र होती है (Childhood age) -
उत्तर - 6 से 12 वर्ष तक।

• बालक में सामाजिक विकास की प्रक्रिया कब प्रारंभ होती है -
When the process of social development begins in a child -
उत्तर - 2 माह की अवस्था में।
balyavastha, childhood, one liner most Important questions
Childhood : One Liner Most Important Questions

'टोली की आयु' (Gange Age) कहा जाता है -
उत्तर - बाल्यावस्था (childhood) को।

 • ऑडिपस ग्रंथि से अभिप्राय है -
उत्तर - लड़के अपनी माता से अधिक प्रेम करते हैं।

इलेक्ट्रा ग्रंथि से अभिप्राय है -
उत्तर - लड़कियां अपने पिता से अधिक प्रेम करती है।

'वीर पूजा' की भावना का विकास किस काल में होता है -
उत्तर - बाल्यकाल में।

• बाल्यावस्था को 'मिथ्या परिपक्वता' (Pseudo Maturity) का काल किसने कहा -
उत्तर - रॉस ने।

• बाल्यावस्था को 'काम भावना की प्रसुप्तावस्था' किसने कहा -
उत्तर - फ्रॉयड ने।

• बालक के संज्ञानात्मक विकास (Congnative development) का गहराई से अध्ययन किसने किया -
उत्तर - जीन पियाजे (Piaget's) ने।

• संवेदी गतिक काल (Sensori Motor Period) की अवस्था है -
उत्तर - जन्म से 2 वर्ष की।

'संवेदी गतिक' से अभिप्राय है -
उत्तर- बालक अपने पर्यावरण को समझने लगता है। बालक वस्तु को छूता है उसमें हरकत पैदा करता है और अपने आसपास के वातावरण को समझता है।

'पूर्व संक्रियात्मक काल' की अवस्था है -
उत्तर - 2 वर्ष से 7 वर्ष।

• 'पूर्व संक्रियात्मक काल' (Pre - Operational Period) से अभिप्राय है -
उत्तर - बालक समाज की वस्तुओं को प्रतीक के रूप में काम में लेता है। वह अपनी क्षमताओं का व्यवस्थित रूप से प्रयोग नहीं कर पाता है।

• बालक के चिंतन शक्ति के विकास के लिए उपयुक्त अवस्था है -
उत्तर - 7 वर्ष से 15 वर्ष तक।

• मूर्त संक्रिया (Concrete operations) की अवस्था है -
उत्तर - 7 वर्ष से 11 वर्ष तक।

• अमूर्त / औपचारिक संक्रिया (Formal operations) की अवस्था है -
उत्तर - 11 वर्ष से 15 वर्ष तक।

• संवेग (Emotion) है -
उत्तर - एक प्रकार की सुखद और दुखद अनुभूति।

• संवेगों (Emotions) की उत्पत्ति होती है -
उत्तर - मूल प्रवृत्तियों के आधार पर।

• मैक्डूगल और गिलफॉर्ड ने संवेगों के कितने प्रकार बताए हैं -
उत्तर - 14
नोट - गेट्स ने 5 बताएं है।

• सामान्य रूप से बालकों में कौन-कौन से संवेग पाए जाते हैं -
उत्तर - क्रोध, ईर्ष्या, जिज्ञासा एवं हर्ष।

• वाटसन के अनुसार बालक में सर्वप्रथम कौन कौन से संवेग प्रकट होते हैं -
उत्तर - क्रोध, प्रेम, भय।

• मनोवैज्ञानिकों ने 'ज्ञान के प्रत्यक्ष द्वार' (Gateway of Knowledge) किसे कहा है -
उत्तर - पांचों ज्ञानेंद्रियों को।

• बालक के सामाजीकरण की आधारशिला है -
उत्तर - परिवार।

• बाल्यावस्था में 'अवधान का विकास' से तात्पर्य है -
उत्तर - बालक का ध्यान उन बातों की ओर अधिक आकर्षित होता है जिनमें उनकी रुचि अधिक होती है। रंग बिरंगी वस्तु अथवा तेज आवाज बालकों के ध्यान को अधिक आकर्षित करती है।

• संवेग को व्यक्ति की 'उत्तेजित मनोदशा' किसने कहा -
उत्तर - वुडवर्थ ने।
नोट - हरलॉक ने संवेग को उत्तेजित मनोदशा और शांतिमय संतुष्टि दोनों को माना है।

• किसके अनुसार नवजात शिशु में स्नेह का संवेग नहीं होता -
उत्तर - ब्रजेज के अनुसार।

• जीवन का निर्माणकारी काल कहा गया है -
उत्तर - बाल्यावस्था (childhood) को।

• किस अवस्था में बालकों में संवेगात्मकता से सामाजिकता का भाव आ जाता है -
उत्तर - बाल्यावस्था में।

• बाल्यावस्था में बालक का दृष्टिकोण होता है -
उत्तर - यथार्थवादी।

प्रतिद्वन्दात्मक समाजीकरण का काल है -
उत्तर - बाल्यावस्था (childhood)।

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां