शिक्षा मंत्रालय ने 4 वर्षीय एकीकृत अध्यापक शिक्षा कार्यक्रम (ITEP) को अधिसूचित किया

4 वर्षीय एकीकृत अध्यापक शिक्षा कार्यक्रम (ITEP) को शिक्षा मंत्रालय ने नोटिफाइड (अधिसूचित) किया है। यह एक दोहरी प्रमुख समग्र बैंचलर डिग्री है जिसके अंतर्गत BA, B.Ed./B.Sc., B.Ed. और B.Com, B.Ed. पाठ्यक्रम पेश किया गया है।

• 2030 से केवल 4 वर्षीय ITEP पाठ्यक्रम से होगी शिक्षकों की भर्ती

 यह पाठ्यक्रम राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 के अंतर्गत अध्यापक शिक्षा से संबंधित किए गए प्रमुख प्रावधानों में से एक है। (5+3+3+4 पैटर्न) NEP 2020 के अनुसार, वर्ष 2030 से शिक्षकों की भर्ती केवल ITEP के माध्यम से होगी। इसे शुरूआत में देश भर के लगभग 50 चुनिंदा बहु-विषयक संस्थानों में पायलट प्रोजेक्ट के तहत प्रस्तुत किया जाएगा।

• विशेषीकृत विषयों में होगी डिग्री हासिल

शिक्षा मंत्रालय के तहत राष्ट्रीय अध्यापक शिक्षा परिषद (NCTE) ने इस पाठ्यक्रम को इस तरह से तैयार किया है कि यह एक छात्र-शिक्षक को शिक्षा (Education) में डिग्री के साथ-साथ इतिहास, गणित, विज्ञान, कला, अर्थशास्त्र, या वाणिज्य जैसे विशेषीकृत विषयों में डिग्री हासिल करने में सक्षम बनाता है।

• पाठ्यक्रम में ECCE, FLN और समावेशी शिक्षा शामिल

ITEP न केवल अत्याधुनिक अध्यापन कला प्रदान करेगा, बल्कि प्रारंभिक बाल देखभाल और शिक्षा (ECCE), मूलभूत साक्षरता और संख्या ज्ञान (FLN), समावेशी शिक्षा, और भारत तथा इसके मूल्यों/लोकाचार/कलाओं/परंपराओं व अन्य चीजों की समझ विकसित करने में आधार तैयार करने का कार्य करेगा।

• एक साल की होगी बचत

 चार वर्षीय एकीकृत अध्यापक शिक्षा कार्यक्रम उन सभी छात्रों के लिए उपलब्ध होगा जो माध्यमिक शिक्षा के बाद टीचिंग को एक व्यवसाय के रूप में लेना चाहते हैं। इस एकीकृत पाठ्यक्रम से छात्रों को काफी फायदा होगा क्योंकि वे वर्तमान B.Ed पाठ्यक्रम के लिए अनिवार्य 5 वर्ष के बजाय 4 वर्ष में ही इसे पूरा कर लेंगे, जिससे उनके 1 वर्ष की बचत होगी।

• 4 वर्षीय आईटीईपी की शुरुआत 2022-23 से, प्रवेश के लिए देनी होगी प्रवेश परीक्षा

4 वर्षीय आईटीईपी की शुरुआत शैक्षणिक सत्र 2022-23 से की जाएगी। राष्ट्रीय परीक्षा एजेंसी (National Testing Agency) द्वारा राष्ट्रव्यापी सामान्य प्रवेश परीक्षा (NCET) के माध्यम से ऑनलाइन कंप्यूटर आधारित/बहुभाषी पद्धति (CBT) के रूप में इस पाठ्यक्रम में प्रवेश दिया जाएगा। यह पाठ्यक्रम बहु-विषयक संस्थानों द्वारा प्रस्तुत किया जाएगा और यह स्कूली शिक्षकों के लिए न्यूनतम डिग्री योग्यता बन जाएगा।

• राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 का उद्देश्य होगा पूरा

4 वर्षीय आईटीईपी राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 (NEP 2020) के प्रमुख उद्देश्यों में से एक को पूरा करने में एक मील का पत्थर साबित होगा। यह पाठ्यक्रम पूरे अध्यापक शिक्षा क्षेत्र के पुनरोद्धार में महत्वपूर्ण योगदान देगा।

भारतीय मूल्यों और परंपराओं के आधार पर तैयार बहु-विषयक वातावरण के माध्यम से इस पाठ्यक्रम में पढ़ने वाले भावी शिक्षकों को वैश्विक मानकों पर 21वीं शताब्दी की आवश्यकताओं के अनुसार शिक्षा दी जाएगी और इस प्रकार यह नए भारत के भविष्य को आकार देने में काफी हद तक मददगार होगा।

• 4 वर्षीय एकीकृत अध्यापक शिक्षा पाठ्यक्रम के लिए फीस क्या होगी

4 वर्षीय आईटीईपी पाठ्यक्रम संचालित करने वाली संस्था केवल वही शुल्क वसूल करेगी जो संबद्ध निकाय या राज्य सरकार या विश्वविद्यालयों द्वारा राष्ट्रीय शिक्षक शिक्षा परिषद (शिक्षण शुल्क के विनिमय के लिए दिशा-निर्देश गैर-सहायता प्राप्त शिक्षक शिक्षा संस्थानों द्वारा प्रभारित अन्य शुल्क) के प्रावधानों के अनुसार निर्धारित किया जाएगा। विनिमय, 2002 और छात्रों से अंशदान, कैपिटेशन शुल्क आदि नहीं लिया जाएगा।

• 4 वर्षीय एकीकृत अध्यापक शिक्षा पाठ्यक्रम के लिए पात्रता क्या होगी

(क) किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से वरिष्ठ माध्यमिक या प्लस टू परीक्षा या इसके समकक्ष में न्यूनतम पचास प्रतिशत अंक वाले उम्मीदवार (5+3+3+4 पैटर्न के तहत) प्रवेश के लिए पात्र हैं। 

(ख) सीनियर सेकेंडरी या प्लस टू परीक्षा या इसके समकक्ष परीक्षा (5+3+3+4 पैटर्न के तहत) और अनुसूचित जाति या अनुसूचित जनजाति या अन्य पिछड़ा वर्ग या दिव्यांग जनों या आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग और कोई भी अन्य श्रेणी के लिए आरक्षण में अंकों के प्रतिशत में छूट केंद्र सरकार या राज्य सरकार या केंद्र शासित प्रदेश प्रशासन के नियमों के अनुसार होगी, जहां लागू हो।

• अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न (FAQs)

Q. 1. चार वर्षीय एकीकृत अध्यापक शिक्षा कार्यक्रम ITEP के अंतर्गत कौन कौन से कोर्स संचालित होंगे?

Ans : यह एक दोहरी प्रमुख समग्र स्नातक डिग्री है, जिसके अंतर्गत BA, B.Ed./B.Sc., B.Ed. और B.Com, B.Ed. पाठ्यक्रम पेश किया गया है।

Q. 02. चार वर्षीय एकीकृत अध्यापक शिक्षा कार्यक्रम (ITEP) कब से शुरू किया जाएगा?

Ans : 4 वर्षीय आईटीईपी की शुरुआत शैक्षणिक सत्र 2022-23 से की जाएगी।

Q. 03. चार वर्षीय एकीकृत अध्यापक शिक्षा कार्यक्रम (ITEP) में प्रवेश संबंधी क्या प्रक्रिया रहेगी?

Ans : राष्ट्रीय परीक्षा एजेंसी (National Testing Agency) द्वारा राष्ट्रीय सामान्य प्रवेश परीक्षा (NCET) के माध्यम से इस पाठ्यक्रम में प्रवेश दिया जाएगा।

Q. 04. चार वर्षीय एकीकृत अध्यापक शिक्षा कार्यक्रम (ITEP) में प्रवेश हेतु पात्रता क्या होगी?

Ans : किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से वरिष्ठ माध्यमिक या प्लस टू परीक्षा या इसके समकक्ष में न्यूनतम पचास प्रतिशत अंक वाले उम्मीदवार (5+3+3+4 पैटर्न के तहत) इस पाठ्यक्रम में प्रवेश के लिए पात्र हैं। SC/ST/OBC/दिव्यांग जनों या आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग और कोई भी अन्य श्रेणी के लिए आरक्षण में अंकों के प्रतिशत में नियमानुसार छूट दी जाएगी।

• चार वर्षीय एकीकृत अध्यापक शिक्षा कार्यक्रम (ITEP) से संबंधित राष्ट्रीय अध्यापक शिक्षा परिषद (NCTE) का गजट नोटिफिकेशन देखें जिसमें इस पाठ्यक्रम में संबंधित मान एवं मानक दिए गए हैं - चार वर्षीय एकीकृत अध्यापक शिक्षा कार्यक्रम - मान एवं मानक 👇