गांधी और टैगोर के बीच बहस का विषय कौन सा नहीं था?

गांधी और टैगोर के बीच बहस का विषय कौन सा नहीं था? A चरखा B अंग्रेजी भाषा C राष्ट्रवाद D औपनिवेशिक शासन के लिए स्वतंत्रता

गांधी और टैगोर के बीच बहस का विषय कौन सा नहीं था?

A
चरखा
B
अंग्रेजी भाषा
C
राष्ट्रवाद
D
औपनिवेशिक शासन के लिए स्वतंत्रता
Answer:

The Correct Option is D. औपनिवेशिक शासन के लिए स्वतंत्रता

Details
गांधी और टैगोर के बीच बहस का विषय चरखा, राष्ट्रवाद, अंग्रेजी भाषा को लेकर बहस का विषय था। औपनिवेशिक शासन के लिए स्वतंत्रता बिंदु पर गांधी और टैगोर के बीच कोई मतभेद नहीं था।
चरखा का पंथ (The Cult of the Charkha) रवीन्द्रनाथ टैगोर का एक निबंध है जो पहली बार सितंबर 1925 में मॉडर्न रिव्यू (Modern Review) में छपा था। निबंध में टैगोर ने एक ऐसी गतिविधि के रूप में "चरखा-कताई" की गांधीवादी नैतिकता की आलोचना की है।

My name is Mahendra Kumar and I do teaching work. I am interested in studying and teaching competitive exams. My qualification is B.A., B.Ed., M.A. (Pol.Sc.), M.A. (Hindi).

Post a Comment